जापान को भारतीय महिला हॉकी टीम ने 2-1 से हराया

Uncategorized खेल समाचार

जापान में चल रहे ओलंपिक परीक्षण प्रतियोगिता में भारतीय महिला हाकी टीम ने शनिवार को यहां मेजबान जापान पर 2-1 की जीत से प्रतियोगिता में अपने अभियान की शुरूआत की। भारत ने पेनल्टी कार्नर विशेषज्ञ गुरजीत कौर की मदद से नौंवे ही मिनट में बढ़त बना ली थी लेकिन मेजबान टीम ने 16वें मिनट में अकी मितसुहासी के मैदानी गोल से 1-1 से बराबरी हासिल की। हालांकि गुरजीत ने फिर 35वें मिनट में पेनल्टी कार्नर से गोल कर अपनी टीम को 2-1 से आगे कर दिया जो निर्णायक रहा। भारतीय टीम ने आक्रामक शुरूआत की और पहले 10 मिनट में ही उसे कुछ मौके मिल गये। दोनों टीमें ओलंपिक खेलों के दिशानिर्देशों के अनुसार 16 खिलाड़ियों के साथ खेल रही थीं। दोनों ने समय समय पर पूरे मैच के दौरान खिलाड़ियों को अंदर बाहर किया।  जापान को स्थानापन्न खिलाड़ी का फायदा हुआ और 29 साल की मितसुहासी ने टीम को बराबरी दिलायी। भारतीय टीम ज्यादा हमले बोल रही थी, हालांकि दोनों टीमें एक दूसरे की रणनीति को अच्छी तरह समझ रही थी क्योंकि दोनों पिछले दो वर्षों में आपस में काफी बार खेली हैं। इससे हाफ टाइम तक स्कोर 1-1 रहा। तीसरे क्वार्टर में भारतीय टीम ने शुरू में दबदबा बनाया और 35वें मिनट में एक और पेनल्टी कार्नर हासिल किया। 23 वर्षीय गुरजीत ने इस मौके का फायदा उठाकार गोल कर दिया। मेजबान टीम ने बचे हुए समय में बराबरी करने की कोशिश की लेकिन उसकी खिलाड़ी मौकों का फायदा नहीं उठा सकीं। और भारतीय टीम ने अंत तक अपनी बढ़त बरकार रखी और विरोधी टीम को गोल करने से रोक कर रखा जिसकी वजह से भारतीय टीम ने इस मैच को अपने नाम कर लिया।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *